रविवार, 10 जनवरी 2010

धड़कन की जुबाँ होती है!

कभी अश्कों तो कभी ख़ामोशी में बयाँ होती है,
हर पल एहसासों की तड़प दिल में जवाँ होती है,
तेरे सजदे में रह के ए'तेराफ(१) करना है मुझे,
जो कशिश तुझ में है इबादत में कहाँ होती है,
बेचैनी की लकीरें जो जबीन(२) पे उभरती हैं,
खींच ले जाती हैं मुझे मयकशी जहां होती है,
उस तरफ गुरूब्ता(३) पाता हूँ मैं खुद को,
दरिया की खामोशी सब से ज्यादा जहां होती है,
तू भी एहतेसाब(४) करने लगी है मेरी चाहत को,
माने या न माने तू हर धड़कन की जुबाँ होती है!
*********************************************
(१) इज़हार (कन्फेस) (२) माथा (३) डूबता (४) परीक्षण
*********************************************

18 टिप्‍पणियां:

  1. तू भी एहतेसाब(४) करने लगी है मेरी चाहत को,
    माने या न माने तू हर धड़कन की जुबाँ होती है!
    वाह वाह गज़ब की पँक्तियाँ हैं बधाई । ये उर्दू कहाँ से सीखते हो मुझे भी बता दे4ना। धन्यवाद और आशीर्वाद । दिन पर दिन निखार आ रहा है लेखन मे । अच्छा लगता है

    उत्तर देंहटाएं
  2. tere sajde mein rahkar eatefaaf karna hai mujhe, jo kashish tujhme hai ebadat mein kahan hoti hai....KAShish to hai aapki writing mein :-)

    उत्तर देंहटाएं
  3. आप तो गजल लिखने में माहिर हैं जी!
    आज भी बेजोड़ गजल लिखी है!
    बधाई!

    उत्तर देंहटाएं
  4. Hello,

    It seems you have poured the entire skills in this creation of yours!!

    Fantabulous...
    Have a nice day!
    Regards,
    Dimple

    उत्तर देंहटाएं
  5. सुरिंदर जी
    बहुत खूब
    सुन्दर रचना
    बहुत बहुत बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  6. Indeed your poem talks of the speech of silence, there is meaning in every heartbeat. Without saying a work we can speak the longest the most meaningful sentence.
    Thanks for sharing another of your wonderful creation.

    उत्तर देंहटाएं
  7. कभी अश्कों तो कभी ख़ामोशी में बयाँ होती है,
    हर पल एहसासों की तड़प दिल में जवाँ होती है,

    बहोत खूब.....!!

    उत्तर देंहटाएं
  8. मकर संक्रांति की बहुत बहुत बधाई और शुभकामनाएँ!
    बहुत सुन्दर रचना !

    उत्तर देंहटाएं
  9. ...प्रभावशाली व प्रसंशनीय गजल, सभी शेर चमकते रत्नों की तरह हैं !!!!!

    उत्तर देंहटाएं
  10. Surendra ek meaning poochna hai aapse......Dil-e-gosha ka meaning (corner of heart hota hai)

    उत्तर देंहटाएं
  11. Surender Ji,
    Bahut sunder bhaav,
    तेरे सजदे में रह के ए'तेराफ(१) करना है मुझे,
    जो कशिश तुझ में है इबादत में कहाँ होती है,

    उत्तर देंहटाएं