सोमवार, 8 मार्च 2010

नमन करता हूँ-महिला दिवस पर कुछ ख़ास!


कृप्या तस्वीर पर क्लिक करें!

सधन्यवाद,

सुरेन्द्र!

17 टिप्‍पणियां:

  1. how sweat! Beautiful....I would like to say..we always fight challenges because we deserve it.

    उत्तर देंहटाएं
  2. bahut sundar kavita likhi hai aur uske bhaav bhi bahut hi sundar hain.

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत सुन्दर भाव के साथ आपने बेहद ख़ूबसूरत रचना लिखा है! बहुत अच्छा लगा!

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत सुन्दर अभिव्यक्ति!
    मातृ-शक्ति को नमन!

    उत्तर देंहटाएं
  5. Hello ji,

    What a nice way of showing the respect!!
    Aapne apni kalaa se naa jaane kitne logo ka mann harr liya :)
    Bahut achha likha hai...

    Couldn't have been better than this -- What else I may say :-)

    Regards,
    Dimple :)

    उत्तर देंहटाएं
  6. ांअज महिला दिवस पर बहुत अच्छी रचना है। बधाई और आशीर्वाद्

    उत्तर देंहटाएं
  7. kya baat hai

    bhaut sahi likha hai apne..aaj ke din ek achi rachna mili padne ko

    sakhi

    उत्तर देंहटाएं
  8. बधाई स्वीकार करें, चावला जी!
    सच में, कोई और नहीं वो औरत है!
    और जो, मूंह खाए पर आँख 'ना' लजाये, वो मर्द! फिर महिला आरक्षण अधर में लटक गया!
    भारत माता की जय!

    उत्तर देंहटाएं
  9. more beautyful and more senstive to women. thaks for method of expression

    उत्तर देंहटाएं
  10. सुरेन्द्र भाई
    बहुत उम्दा पोस्ट
    नारी का दर्जा हमेशा से ऊँचा रहा है और रहेगा
    आभार....................

    उत्तर देंहटाएं
  11. सुरेन्द्र भाई
    बहुत उम्दा पोस्ट
    नारी का दर्जा हमेशा से ऊँचा रहा है और रहेगा
    आभार....................

    उत्तर देंहटाएं
  12. you very beautifully paid yours gratitude to woman's greatness and importance, through your composition...
    I liked some quotes very much as -
    माँ की परछाई जिस में है,
    कोई और नहीं वो औरत है,
    ममता का सागर नैनों में,
    लज्जा सर्वप्रथम गहनों में,
    भावुकता की दरिया जिस में,
    दुःख सह के भी राहत जिस में,
    कोई और नहीं वो औरत है,

    उत्तर देंहटाएं
  13. महिला दिवस पर बहुत अच्छी रचना। बधाई!!

    उत्तर देंहटाएं
  14. एक चित्ताकर्षक बैकड्राप पर सुन्दर कविता -नारी के विविध रूपों को दर्शाती -बहुत खूब !

    उत्तर देंहटाएं